Tulsi ke Faayde

Tulsi ke Faayde, यूं ही नहीं तुलसी को माता कहा जाता है, जानिए 10 फायदे !

नमस्कार,

moneysarthi पर आपका बहुत बहुत स्वागत…!

 

आज हम आपको तुलसी के ऐसे कई फायदे बताने वाले हैं, जिससे आप शायद अनजान हों।

तुलसी को आयुर्वेद में माता का स्थान दिया गया है।

सनातन धर्म में कई ऐसी सांकेतिक परंपरा है, जो तुलसी के संरक्षण हेतु प्रोत्साहित करती है।

भारत में तुलसी की पूजा, और आराधना भी की जाती है।

Tulsi ke Faayde

#कैसे मिली Tulsi ke Faayde पर आर्टिकल लिखने की प्रेरणा :-

लेखक कभी कोई अंधविश्वास को नही मानता। लेकिन पुरखों और कुछ चली आ रही परंपराओं से मैं काफी प्रभावित हूं।

दरअसल मुझे कई बार दम फूलने (अस्थमा ) की शिकायत रहती है।

जिसके लिए बचपन में कई बड़े बड़े डॉक्टर से मेरा उपचार हुआ।

Finally बात इन्हेलर पर आ टिकी।

लेकिन डॉक्टर ने ही मुझे तुलसी और काली मिर्च साथ में खाने की सलाह दिए थे।

अभी भी हर दो या तीन वर्ष के अंतराल में मुझे दम फूलने की शिकायत हो जाती है।

ऐसा ही वक्त था अप्रैल 2021 में जब ऐसी शिकायत मुझे फिर से हुई।

इस बार कई जगह जैसे मंदिर, या आस पास के घर में तुलसी की पत्तियां खोजने का मैने प्रयास किया।

पर वैशाख की गर्मी में सारे पौधे , पत्तियां सूख चुकी थी।

मुझे समझ आ गया था, कि इस पौधे को समय समय पर पानी नहीं मिल सका।

तुलसी की पत्तियां तो मुझे मिली, पर वो एक सामान्य पूजा पाठ करने वाली महिला के घर से मिली।

माफ कीजिएगा, लेखक अंधविश्वास का समर्थन नही करता…!!

ऐसा इसलिए हुआ, महिला प्रतिदिन सुबह सूर्योदय से पहले तुलसी में जल चढ़ाती थीं।

तभी कराके की गर्मी में भी तुलसी हरा भरा था।

मैं तब से अपने घर की तुलसी में गर्मी में प्रतिदिन जल देने का निश्चय किया।

ये कुछ सांकेतिक परंपरा, आपका या किसी का भी जीवन रक्षक साबित हो सकती है।

इसलिए मैने इस लेख के माध्यम से समाज में तुलसी के प्रति जागरूकता पैदा करना चाहा हूं।

मैं यह रिकमेंड करता हूं, कि हर व्यक्ति को, चाहे वो किसी भी जाति धर्म का हो।

तुलसी के पौधे लगाएं और उन्हें संरक्षित करें।

 

इसे भी पढ़ें:-Top 6 dividend fund in hindi

 

चलिए अब हम लेख के मुख्य विषय पर आते हैं।

और आपको तुलसी के अनगिनत फायदे बताने से पहले हम तुलसी के बारे मोटा मोटी जानकारी आपको देने का प्रयास करता हूं।

 

Types of Tulsi

 

भारत के तुलसी तीन प्रकार के होते हैं। (Three types of Tulsi)
 

1) Rama Tulsi (रामा तुलसी) या shree Tulsi ( श्री तुलसी):-

यह तुलसी हरे रंग में पाया जाता है।

2) Krishna Tulsi (कृष्णा तुलसी) या Shyama Tulsi ( श्यामा तुलसी) :-

यह तुलसी काले रंग में पाया जाता है।

3) Vana Tulsi ( वन तुलसी):-

यह तुलसी गहरे हरे रंग में पाए जाते हैं।
 

Tulsi ke fayde aur nuksan in hindi

 
Tulsi ke Faayde और नुकसान :-

तुलसी के अनगिनत फायदे हैं, इसके महत्वपूर्ण लाभ को हम दो आर्टिकल के पार्ट में कवर करेंगे ।

 

1) स्मरण शक्ति तेज करने के उपाय में तुलसी है फायदेमंद

 
विद्यार्थी जीवन में स्मरण का तेज होना बहुत जरूरी होता है।
कई सारे महत्वपूर्ण पाठ, हमें याद करने होते हैं।

तुलसी में Rosamerinic acid नामक ingrediants पाए जाते हैं।
जो कि दिमाग के लिए बहुत अच्छा होता है।

स्मरण शक्ति को कई गुना बढ़ा सकता है।

स्मरण शक्ति तेज करने में सर्वाधिक उपयुक्त तुलसी

 

2) Anti Septic गुण की वजह से हृदय विकारों में तुलसी है फायदेमंद

 
तुलसी में हल्दी की तरह ही एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।

तुलसी में Eugenol नामक ingrediants पाया जाता है।

जिस वजह से इसमें एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं।

इस वजह से किसी भी इन्फेक्शन में तुलसी फायदेमंद होता है।

 

3) Anxiety , Stress और depression में भी Tulsi ke Faayde

 
आज कल हर दूसरे तीसरे इंसान डिप्रेशन में होते हैं।

दैनिक जीवन की ढेर सारी समस्याएं हैं।

लेकिन इन डिप्रेशन से निजात पाने में तुलसी बहुत मददगार है।

क्योंकि इसे खाने पर यह शरीर से carticosteron को कम करता है।

जिससे आपका मूड सही रहेगा।

 

इसे भी पढ़ें:-Business Plan After Covid

 

4) Cognitive Function में Tulsi ke Faayde

 
कई व्यक्ति सुस्त होते हैं, थोड़े आलसी टाइप के होते हैं।

यदि वो तुलसी का सेवन करेंगे, तो उसके दिमाग की प्रोडक्टिविटी को बढ़ाएगी।

इसके अतिरिक्त तुलसी:

  • short term memory loss को खत्म करती है।
  • attention यानी काम के प्रति आपका ध्यान आकर्षित करेगी।
  • concentration को मजबूत करेगी, और आप ज्यादा सीखने की क्षमता हासिल करेंगे।

 

5) यदि हैं अनिद्रा से परेशान तो तुलसी का सेवन करें

 
दैनिक जीवन के डिप्रेशन, पढ़ाई लिखाई , जॉब न मिलना जैसी और भी समस्याओं से कई बार व्यक्ति को अनिद्रा की समस्या होने लगती है।

ऐसे में अगर तुलसी का सेवन किया जाए।

तो आपको गहरी नींद आने लगेगी।

यदि आप कोई टैबलेट नींद के लिए लेते हैं।

तो उसके साथ भी तुलसी का सेवन कर सकते हैं।

ये आपकी उस टैबलेट पर निर्भरता को खत्म करेगी।

जब भी आप सुबह सो कर उठेंगे तो ताजगी और ऊर्जावान होने का अनुभव होगा।

 

4) मुंह में छाले, पायरिया , cavities ulcer में भी तुलसी चूर्ण से मिलता है आराम

 
यदि वन तुलसी हो तो अति उत्तम !

अगर हरी तुलसी का भी चूर्ण के साथ सरसों का तेल मिला कर दांत पर रगड़ें, तो यह समस्या समाप्त हो जाती है।

 

5) छोटी मोटी समस्याओं में भी है Tulsi ke Faayde

 
तुलसी के सेवन से छोटी मोटी समस्या जैसे –

  • Gastritis ( गैस बनना)
  • Pain (दर्द होना)
  • Vomitting ( उल्टी आना)
  • दस्त आना
  • खट्टी डकारें
  • Heart burn

तो ऐसे ही समाप्त हो जाती है, बड़ी ही आसानी से।

 

6) LIVER effeciancy boost करती है Tulsi

 
तुलसी पाचन में मददगार तो है ही।

Detoxification गुण के कारण तुलसी भोजन से हानिकारक अवयव को भी अलग करती है।

इस तरह से ये सभी प्रकार के लीवर रोग को दूर रखती है।

यदि आप processed food, packaged food जैसे हानिकारक भोजन नही भी करते हैं।

तो भी तुलसी का सेवन आपको करना चाहिए।

क्योंकि फल और सब्जियों में भी आजकल pesticides और fertilizers की वजह से हानिकारक अवयव मौजूद होते हैं।

 

7) kidney desease से Tulsi आपको दूर रखती है

 
तुलसी में Diuretic गुण होता है।

तुलसी यूरिक एसिड को कम करती है।

और किडनी स्टोन जैसी बीमारियों को उपजने भी नहीं देती।

यूरिक एसिड की मात्रा अधिक होने से गठिया रोग की संभावना बढ़ती है।

ऐसे में तुलसी का जरूर सेवन करना चाहिए।

डायबिटीज में भी तुलसी लाभदायक है।

 

इसे भी पढ़ें:-Best Mutual Fund >> Fund हो ऐसा जो साल भर में डबल करे पैसा !!

 

8) खांसी, दम फूलने, न्यूमोनिया, tuberculosis यानी टीवी रोग में रामबाण है Tulsi

 
तुलसी कफ को ढीला करके बड़ी आसानी से शरीर से बाहर कर देती है।

गले में खरास हों, या कफ से परेशान हो। खासी , दमा, श्वसन समस्या में सबसे अधिक कारगर है तुलसी।

तुलसी कोरोना महामारी में भी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बहुत काम आई है।

सांस लेने की समस्या में तुलसी का पत्ता चबा कर खाएं।

 

9) Stamina Boost करेगी Tulsi

 
तुलसी का सेवन आपको ऑक्सीजन को कंज्यूम करने की ताकत प्रदान करती है।

तुलसी के सेवन से ऑक्सीजन प्रोसेस और और उसका स्टोरेज क्षमता दोनो बढ़ता है।

क्योंकि हृदय के ब्रोंकियल को पूरी तरह से खोलने और विकास में तुलसी फायदेमंद है।

 

नोट – तुलसी के अधिक सेवन से इसके साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं।

 

लेखक ने यह पोस्ट सिर्फ तुलसी के महत्व की जानकारी हेतु लिखा है।किसी भी प्रकार के गंभीर बीमारियों में कृपया डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

 

आज के लिए इतना ही हम आपसे फिर से कई ज्ञानवर्धक लेख के साथ जुड़ते रहेंगे। ये लेख कैसा लगा ये आप हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताइएगा।

लेख के नियमित अपडेट पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज moneysarthi को लाइक करें।

आर्टिकल के तुरंत और तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप या टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ना बिल्कुल न भूलें।

Moneysarthi पर अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद !!

जय हिन्द!!

इस लेख का कॉपीराइट अधिकार money sarthi के पास सुरक्षित है। इस लेख या लेख का कोई भी भाग कॉपी करना या डिजिटल मीडिया में या किसी भी अन्य रूप में प्रकाशित करने पर कानूनी दंड के भागीदार होंगे।

One thought on “Tulsi ke Faayde , जानिए 10 फायदे !”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *