Khud ka Mutual Fund

Khud ka Mutual Fund Kaise Banaye – अपना खुद का mutual fund बना कर, बहुत सारा पैसा बचा सकते हैं आप !

नमस्कार,  Money sarthi पर आपका बहुत बहुत स्वागत।

इंटरनेशनल अफेयर्स, फाइनेंस, स्टॉक मार्केट, शेयर बाजार की खबरों से हम आपसे लगातार जुड़ते रहते हैं।

इसी क्रम में हम आपके लिए आज एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी आपसे साझा करेंगे।

यदि आप Share market में निवेश करते होंगे, तो आपको mutual fund के बारे में तो जरूर पता होगा।
 

Mutual Fund Kya hai

 
Mutual fund एक प्रकार का pool of money है।

यानि पैसों का ऐसा बॉक्स जिसमे बहुत सारे लोगों का पैसा होता है, और उससे अलग अलग कम्पनियों के शेयर खरीदे जाते हैं।

Mutual Fund के बारे में विस्तार से जानकारी मैंने पिछले कुछ articles में दिए हैं।

लेकिन यहां मैं आपको संक्षिप्त में बता दे रहा हूं।

Mutual Fund कम्पनियों के पास कुछ प्रोफेशनल व्यक्ति ऐसे होते हैं। जिनका Financial background होता है।

Mutual fund मैनेजर काफी तीव्र बुद्धि, और दूरगामी सोच के होने चाहिए।

ये मैनेजर आपके दिए गए पैसे को सही जगह लगा कर आपको एक अच्छी खासी रिटर्न देने की कोशिश करते हैं।

यदि आप शेयर मार्केट में बिल्कुल नए हैं, तो mutual fund एक सबसे अच्छा विकल्प होगा, जहां आप अच्छा खासा रिटर्न प्राप्त करोगे।

लेकिन ऐसा भी नहीं है कि हम बिना mutual fund के निवेश नहीं कर सकते।

हमें अच्छी अच्छी कम्पनियों की मोटा मोटी साधारण knowledge भी हो, तो हम mutual fund से भी बेहतर रिटर्न खुद के mutual fund से प्राप्त कर सकते हैं।

अपना खुद का Mutual Fund भी आप आसानी से बना सकते हैं।

इसके फायदे यह हैं कि आप एक बड़ा expense ratio और exit load जैसे चार्ज से बच सकते हैं।

जी हां…

ऐसा आसानी से मैं आगे बताऊंगा।

 

इसे भी पढ़ें:-Cyber Crime..10 तरीकों से हो रहा बैंक खातों से पैसा चोरी

 

आखिर क्यों जरूरत पड़ रही अब खुद का Mutual Fund बनाने का!

 

देखिए कई सारे mutual fund ऐसे हैं, जो मात्र कुछ नामी गिरामी कम्पनियों में पैसा लगाकर आपको रिटर्न दे रही है।

और फंड मैनेजर को कुछ खास दिमाग लगाने की भी जरूरत नहीं !!

फिर भी आपको expense ratio देना पड़ जाता है।

इसके अतिरिक्त 1% का exit load का भी आपको गुलाम बनना पड़ जाता है।

हालांकि ऐसा कह कर मैं mutual fund की बुराई नहीं कर रहा हूं। पर जो आप खुद कर सकते हैं, वो काम आप दूसरों को क्यों दें?

क्या आवश्यकता है, जब हमें सबकुछ पता होते हुए भी इतना अतिरिक्त चार्ज देना पड़े?

कई सारे mutual fund के expense ratio काफी ज्यादा होते हैं। कईयों के तो 2.5% से भी अधिक होते हैं।

ऐसे में ये आपके रिटर्न को बुरी तरह प्रभावित कर जाता है।
 

Khud ka Mutual Fund बनाने के फायदे

 
खुद के mutual fund बनाने के कई फायदे हैं।

जैसे –
 

Expense Ratio का खात्मा

 
Expense ratio बिल्कुल nil हो जाता है।

यदि आप सोच रहे हैं, ये expense ratio किस चिड़ियां का नाम है, तो आपको बता दूं।

कोई भी Mutual Fund company फ्री में तो काम करती नहीं है। उसके भी infrastructure होते हैं। Maintainance charges होते हैं। और fund manager को भी मोटा पैसा सैलरी के रूप में देना पड़ता है।

तो ऐसे में mutual fund कम्पनियां अपने निवेशक से expense ratio के रूप में चार्ज करती है।

ये expense ratio कुछ प्रतिशत तक का होता है।

किसी का कम तो किसी का ज्यादा !!

ऐसे में यदि आप खुद का mutual fund बना लेते हैं तो फिर आप expense ratio बचा लेंगे।

 

Exit Load की कोई टेंशन नहीं

 
खुद के Mutual Fund बना लेने के एक बड़े फायदे ये भी हैं कि आपको exit load की कोई टेंशन नहीं रहेगी। जब चाहो तब आप निकल सकते हो।

Mutual fund आपके लिए तब परेशानी का सबब बन जाता है, जब आपको पैसे की तुरंत और सख्त जरूरत हो।

और आपको पैसा हर हाल में निकालना है।

और उसपे 1% मोटा चार्ज वसूल कर लिया जाता है।

हालांकि अधिकतर फंड कम से कम एक वर्ष तक ही ये चार्ज रखती है।

उसके बाद आप free में भी exit ले सकते हैं।

बस कुछ taxes applicable होते हैं।

अब मैं आपको ये mutual fund बनाना कैसे है, ये समझा देता हूं।उसके बाद आपको एक और जबरदस्त फायदा समझाने वाला हूं।

 

इसे भी पढ़ें:-Top 6 dividend fund in hindi

 

Khud ka Mutual Fund kaise banaye

 

How to make self managed Mutual Fund

 
खुद का mutual fund बनाना भी आसान है, पर मैं जो तरीका बताऊंगा। उसमे आपको मोटा पैसा रखना होगा, तभी कर पाएंगे।

लेकिन हां,

Zerodha की मदद से आप 20-25 हजार तक रुपए में भी खुद का mutual fund बना सकते हैं।

Zerodha small kites की मदद से।

पर मैं आपको एक और तरीका सूझा रहा हूं।

आप सबसे पहले अपना पसंदीदा mutual fund चुन लो। उसको ट्रैक करते रहो।

जो सबसे अच्छा mutual fund होगा, आप उसकी होल्डिंग देख लो।

होल्डिंग में जितनी कम्पनियां हैं, सबकी एक एक शेयर आप खरीदें।

यदि आपके पास उतने रुपए नहीं हैं, तो फिर आप टॉप के 10 या 20 कम्पनियों के ही शेयर ले लें।

ये शेयर आप जितनी मर्जी खरीद सकते हैं।

अगर आप अपने पसंदीदा mutual fund को पूरी तरह से फॉलो करना चाहते हैं, तो वो mutual fund कम्पनी जितनी प्रतिशत रुपए का स्टॉक जिस कंपनी में खरीदती है।

इतने प्रतिशत आप भी अपने कुल अमाउंट का खरीद लो। और लंबे समय के लिए छोड़ दो।

आप भविष्य में मोटा मुनाफा कमा सकते हैं, बिना किसी खास अतिरिक्त चार्जेस के।

हालांकि बाद में fund manager अपनी समझ के हिसाब से यदि किसी कम्पनी की शेयर बेचती या होल्ड करती है, तो उसको भी आपको ट्रैक करते रहना है।

ये नियम आप इंडेक्स फंड (index fund) पर भी लागू होता है। यहां अच्छी बात ये है कि यहां आपको fund manager को ट्रैक करने की आवश्यकता नहीं है।

यहां आप निफ्टी के 50 मजबूत कम्पनियों में पैसा लगाओगे। और index fund वाली अथॉरिटी भी यही करती है।

यदि आपके पास पैसे कम हैं तो अभी थोड़ा इंतज़ार करना उचित होगा।

अभी आप किसी अच्छे फंड के साथ चले जाओ।

बाद में जब आपके पास मोटा पैसा आ जाए, तब फिर ऐसा करना।

इससे बड़े अमाउंट पर लगने वाला expense ratio आपका सीधे सीधे बचेगा।

यदि आप निफ्टी या किसी भी mutual fund की होल्डिंग वाली कंपनी में शेयर खरीदते हो।

तो एक बड़ा फायदा और जबरदस्त फायदा ये होगा कि आप मार्केट के गुलाम नहीं रहोगे।

 

जब मार्केट बढ़ेगी तब बेच दोगे या होल्ड कर लोगे।

जब मार्केट घटेगी तब धड़ल्ले से खरीद लोगे।

 

है ना फायदे का सौदा?

 

मान लीजिए आपने निफ्टी के 50 कम्पनियों का एक एक शेयर खरीद लिया।

मार्केट में निफ्टी जब गिर रही होती है, तो अगले कुछ दिनों में तेजी से बढ़ भी जाती है, ऐसा देखा गया है।

तो आपकी जो शेयर का performance बुरा होगा आप उस दिन उसे और खरीद लोगे, ताकि मार्केट के contraction का आपको फायदे मिलते रहे।

ऐसे में दुगुना फायदा होगा।

 

इसे भी पढ़ें:-Best Mutual Fund >> Fund हो ऐसा जो साल भर में डबल करे पैसा !!

 

आज के लिए इतना ही हम आपसे फिर से कई लेख के साथ जुड़ते रहेंगे।
आपको ये लेख Khud ka Mutual Fund Kaise Banaye कैसा लगा ये आप हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताइएगा।

लेख के नियमित अपडेट पाने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज money sarthi को लाइक करें।

आर्टिकल के तुरंत और तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप या टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ना बिल्कुल न भूलें।

Moneysarthi पर अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद !!

जय हिन्द!!

इस लेख का कॉपीराइट अधिकार money sarthi के पास सुरक्षित है। इस लेख या लेख का कोई भी भाग कॉपी करना या डिजिटल मीडिया में या किसी भी अन्य रूप में प्रकाशित करने पर कानूनी दंड के भागीदार होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *