Intelligent लोगों की आदतें

Intelligent लोगों की आदतें -मेरा नाम सौरभ है और आज मैं आपको उन 7 अनोखी आदतों के बारे में बताने जा रहा हूँ जो Intelligent लोग फॉलो करते हैं। या ऐसा कहें कि इन आदतों को अपने जीवन में शामिल करके कोई भी Intelligent और सफल इंसान बन सकता है।

Intelligent लोगों की आदतें

हममें से सभी ऐसा चाहते हैं कि दुनिया हमें एक Intelligent और सफल इंसान के रूप में जाने मगर क्या सिर्फ सोचने भर से ऐसा हो जायेगा ? बिलकुल भी नहीं।

हर किसी इंसान की सफलता के पीछे उसकी कुछ खास आदतें शामिल होती हैं, जो उसे भीड़ से अलग बनती हैं। तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं कि वो 7 जादुई आदतें क्या होती हैं, जिनको अपनाकर लोग बुद्धिमान तो बनते ही हैं, साथ ही सफल इंसान भी बनते हैं।

 

Intelligent लोगों की 7 आदतें

 

1 – # ज़िद्दीपन –

दोस्तों सबसे पहली आदत जो इंटेलीजेंट लोग फॉलो करते हैं वो ये है कि वे स्वभाव से ज़िद्दी होते हैं। ज़िद्दी होने का यहाँ ये कतई मतलब नहीं है कि वे झगड़ालू प्रवृति के हों।

ज़िद्दी वे इस बात के लिए होते हैं कि अगर वे सफल होने के लिए कुछ ठान लेते हैं तो उस काम को करके ही दम लेते हैं। फिर चाहे उसके लिए उन्हें कुछ भी करना पड़े।

Space X कंपनी के मालिक Elon Musk से जब एक इंटरव्यू में पूछा गया कि एक के बाद एक तीन असफल राकेट लांचिंग के बाद क्या आपके दिमाग में कभी ये आया कि आपको इस प्रोजेक्ट को बंद कर देना चाहिए ? तो उनका जवाब था कि मैं इस काम तो तबतक करता रहता जब तक ये सफल ना हो जाता या मैं मर ही क्यों ना जाता।

ठीक ऐसा ही जब Will Smith से पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि अगर कोई ट्रेडमिल पर मेरे से कम्पटीशन करता है तो मैं तब ही रुकूंगा जब मैं जीत जाऊंगा या फिर उनकी मौत हो जाएगी।

 

2 – #फोकस्ड –

इंटेलीजेंट लोगों की एक सबसे अहम् आदत होती है कि वे किसी काम को करने के लिए इतने ज़्यादा फोकस्ड होते हैं कि उनके आसपास क्या चल रहा है उसका उनको कोई अंदाजा ही नहीं रह जाता।

और ये फोकस ही है जो उन्हें किसी काम को ज़्यादा बेहतर तरीके से करने के काबिल बना देता है। उदाहरण के लिए एक बार Warren Buffet की वाइफ काफी बीमार थी तो उन्होंने बिस्तर से Buffet से कहा कि वे रसोई से उनके लिए एक कटोरी ला दें।

Buffet काफी देर तक बर्तन फेकते रहे और आखिर में एक छेंद वाली कटोरी लेकर लौटते हैं, जिसमें उनकी पत्नी सब्ज़ियां धोती थी। ऐसा इसलिए नहीं हुआ क्योंकि Buffet लापरवाह हैं बल्कि वो उस समय किसी कंपनी के शेयर्स पर रिसर्च कर रहे थे और उसी के गुणा गणित में खोये रहने की वजह से उन्हें क्या करना था इसका अंदाजा ही नहीं रहा।

 

3 – #रीडिंग –

इंटेलीजेंट लोगों में जो एक बात सबसे ज़्यादा कॉमन है या कहें जिसके बिना वो इंटेलीजेंट हो ही नहीं सकते वो है किताबें पढ़ने की। सभी इंटेलिजेंट लोग अपने से पहले पैदा हुए महान लोगों की लिखी हुई किताबें पढ़ पढ़ के ही यहाँ तक पहुंचे होते हैं।

इंटेलीजेंट लोग एक बहुत उम्दा किस्म के रीडर होते हैं। कई तो 200 पन्नों की किताब को एक दिन में ही ख़त्म करने का माद्दा रखते हैं। किताबें पढ़ने के कारण उनका दिमाग खुलता जाता है।

जहाँ एक सामान्य इंसान सोचना बंद कर देता है, इंटेलीजेंट लोगों की सोच वहां से शुरू होती है, वो सिक्के के दोनों पहलू बड़ी आसानी से देख सकते हैं और ऐसा आदतन होता है क्योंकि उन्होंने अपना बहुत सारा समय किताबों को पढने में इन्वेस्ट किया होता है, जिससे उनकी कल्पनाशीलता की कोई सीमा नहीं रह जाती।

 

4 – #कल्पना करने की क्षमता –

इंटेलीजेंट लोग कल्पनाशील होते हैं, उनके दिमाग में किसी भी तरह की घटना को वास्तविक रूप में पेश कर देने की गज़ब की क्षमता होती है। वो जब भी कोई नए बिजनेस के बारे में कल्पना करते हैं तो उसके सकारात्मक और नकारात्मक पहलू अपने आप उनके सामने आते जाते हैं ,जिन्हे वो अपनी बुद्धि से हल भी करते जाते हैं।

कोई भी बिजनेस सबसे पहले कल्पना से शुरू होता है, फिर इंसान उसे मूर्त रूप देता है। इंटेलीजेंट और सामान्य व्यक्ति में यही एक अंतर होता है। कल्पना तो सभी कर लेते हैं, कोई छोटी तो कोई बड़ी मगर जब उसे सच करने की बारी आती है तो इंटेलीजेंट लोग ही कर पाते हैं।

 

इंसान कभी विकसित हुआ ही नहीं

 

5 – #मोर्टेलिटी को लेकर जागरूकता –

दुनिया में हर चीज़ नश्वर है और ऐसा इंसानो के साथ भी होता है। जो पैदा हुआ है उसे एक दिन मरना भी है और ये बात इंटेलिजेंट लोग बखूबी जानते हैं, इसीलिए वे जो काम करते हैं वो इस तरह से करने की कोशिश करते हैं जिसमे एक बार किये काम से से लगातार अनलिमिटेड पैसे आते रहे,

क्योंकि वे जानते हैं कि “ज़िन्दगी ना मिलेगी दोबारा”. उदाहरण के लिए Amazon के मालिक Jeff Bezos ने जब अपना बिजनेस सही तरह से जमा लिया तो अपना काफी काम ओउटसोर्स कर दिया ताकि तो अपना ज़्यादा समय अपनी फैमिली और बच्चो के साथ बिता सकें।

अब वे पूरी दुनिया में जो चाहे वो कर सकते हैं। उन्होंने अपनी आर्थिक स्वतंत्रता पा ली है।

 

6 – #आईडिया को लागू करने की आदत –

फ़र्ज़ कीजिये आपके पास बिजनेस का एक बेहतरीन आईडिया है जो आप सिर्फ अपने पास तक रखे रहते हैं, उससे होगा ये कि वो सिर्फ आईडिया बनकर ही रह जायेगा कभी ज़मीन पर नहीं उतरने वाला।

इंटेलिजेंट लोग आईडिया को लागू ज़रूर करते हैं और यही आदत उन्हें एक अलग श्रेणी में खड़ा करती है। जब कभी उन्हें कोई आईडिया आता है तो वे उसे लिखते हैं ताकि भूल ना जाएं, फिर उसपर सारे लॉजिक लगाकर ये तय करते हैं कि वो बिजनेस आईडिया फ्लॉप ना हो।

फिर उसे ज़मीन पर उतार देते हैं।

7 – #ना कहने की आदत –

इंटेलिजेंट लोग अपने लक्ष्य को लेकर बहुत जागरूक होते हैं और जब भी कोई ऐसा काम करने को बोला जाये जो उनके रास्ते की रुकावट बन सकता है तो वे उसे सीधे तौर पर मना करना जानते हैं।

एक कहावत है, “Don’t say Yes, if you want to say No.”

इंटेलिजेंट लोगों की ये आदत उनके समय की वैल्यू बढ़ा देती है, उनकी लाइफ का एक एक पल उनके लक्ष्य के लिए समर्पित होता है, ऐसे में किसी आदमी की दखल बर्दास्त नहीं करते जिसके वजह से उनके सफर में कोई बाधा आये। इसलिए इस आदत का होना बहुत ज़रूरी हो जाता है।

तो दोस्तों ये रहे कुछ 7 Intelligent लोगों की आदतें जो एक इंटेलिजेंट इंसान में होनी ही चाहिए। अपने को रखकर चेक कीजिये कि इनमे से कितनी आदतें आपमें पहले से हैं और अगर कोई नहीं है तो आज से ही लग जाइये उन्हें अपनाने के लिए।

आशा करता हूँ आपको मेरा ये Intelligent लोगों की आदतें आर्टिकल पसंद आया होगा। कमेंट करके हमें ज़रुर बताएं।

धन्यवाद!

 

इसे भी पढ़ें:-चीन (China )कैसे बन गया एक आर्थिक महाशक्ति ?

 

इसे भी पढ़ें:-Share market Kya hai और शेयर मार्केटिंग कैसे करें

 

इसे भी पढ़ें:-अमीर होने के पांच नियम | Be Rich

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *