Future Of Mutual fund

Future Of Mutual fund – Mutual fund में आ रही भर भर के निवेश ,क्या होगा Mutual fund का भविष्य?

नमस्कार ,

एक बार फिर आपका moneysarthi पर स्वागत करता हूं।

हम लगातार आपसे इंटरनेशनल अफेयर्स, स्टॉक मार्केट, फाइनेंस, बिजनेस और शेयर बाजार से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी लेकर उपस्थित होते हैं।

आज हमको आपको Future Of Mutual fund से जुडी ऐसी latest अपडेट के बारे में बताएंगे। जो यदि आप इन्वेस्टर हैं, Mutual Fund में निवेश करते हैं।

या फिर आगे भविष्य में Mutual Fund में निवेश करना चाहते हैं। तो आपको ये जरूर जानना चाहिए।

दोस्तों यदि आप Share market को ट्रैक कर रहे होंगे या फिर शेयर मार्केट में निवेश करते होंगे, तो आपको ये जरूर पता होगा।

मार्च 2020 में शेयर मार्केट बिल्कुल निचले स्तर पर चला गया था। फिर उसके बाद से काफी तेजी से शेयर मार्केट ऊपर गया था।

एक तरफ तो शेयर बाजार की value लगातार बढ़ने लगी थी, दूसरी तरफ mutual fund में निवेश घटता जा रहा था।

लेकिन अब scenario पूरी तरह से विपरीत हो चुका है, Mutual Fund में निवेश अपने उच्चतम स्तर तक पहुंच गया है।

आखिर इसके क्या वजह हो सकते हैं?  आइए समझते हैं –

 

Mutual Fund क्या है ?

 

Mutual fund को pool of fund भी हम दूसरी भाषा में कहना चाहें तो कह सकते हैं।

ये एक money box की तरह होता है।

इसमें क्या होता है कि निवेशक अपने पैसे इस बॉक्स में डालते हैं और वो सारे पैसे किसी प्रोफेशनल व्यक्ति के हाथ में जाता है।

और वो अपनी क्षमता और समझ अनुसार कई अच्छे कम्पनी के स्टॉक को खरीदता है। और इस प्रकार जो भी रिटर्न आता है, वो निवेशकों के बीच उनकी पूंजी के अनुपात में बांट दिया जाता है।

मेरी व्यक्तिगत सलाह तो ये रहती ही है, कि Mutual Fund में निवेश करना चाहिए।

ये एक बहुत ही अच्छा तरीका है, आपके पैसों को grow करने का।

Type Of Mutual fund

Mutual fund कई प्रकार के होते हैं, मैं नीचे उल्लेखित कर रहा हूं।

 

1) Equity Stock Mutual Fund:-

ये सर्वाधिक रिस्क वाला तरीका है, पैसों के निवेश का।

इसमें Mutual Fund सीधे सीधे शेयर मार्केट में निवेश करती है।

यहां रिटर्न भी सर्वाधिक प्राप्त होते हैं।

इस फंड में शॉर्ट टर्म में निवेश की जगह यदि long term में निवेश किया जाए तो ये बेहतरीन फंड है।

 

2) Debt Mutual Fund :-

Debt mutual fund एक काफी कम रिस्क भरा Mutual Fund है।

ये एक No Risk Mutual fund के लगभग है।

क्योंकि इसमें रिस्क तो बहुत कम होती ही है, साथ में रिटर्न भी ये काफी कम देती है।

 

3) Hybrid Mutual fund :-

इस Mutual Fund के पैसे Equity aur Debt दोनों जगह लगते हैं।

यही वजह है कि इस कैटेगरी के mutual fund का रिस्क काफी हद तक मॉडरेट होता है।

ऐसे में ये mutual fund भी निवेश का एक अच्छा विकल्प है।

 

इसके अतिरिक्त Solution oriented mutual fund scheme और other schemes mutual fund भी है।

 

©• Mutual Fund scheme कई कंपनियों चलाती हैं। जैसे –

  1. UTI mutual fund
  2. HDFC mutual fund
  3. Frankline Templeton investment
  4. Reliance mutual fund
  5. Axis mutual fund
  6. Birla Sun Life mutual fund
  7. Kotak mutual fund
  8. SBI mutual fund
  9. LIC nomuora mutual fund
  10. Tata mutual fund
  11. ICICI mutual fund
  12. Motilal Oswal mutual fund
  13. Parag Parikh mutual fund
  14. Nippon India mutual fund

 

Equity क्या है ?

 

Equity में निवेश करना काफी पॉपुलर तरीका है। Equity में पैसे डालने का मतलब है कि Share Market में पैसे डालना। Equity कई प्रकार के होते हैं।

 

•MultiCap Equity :-

इस इक्विटी में यदि आप निवेश करते हैं, तो आपका पैसा सभी प्रकार के छोटे बड़े कम्पनी, जिसके आगे बढ़ने की काफी संभावना हो उसमे लग जाती है।

इस प्रकार इस इक्विटी फंड के मैनेजर आपको बेहतर रिटर्न देने का प्रयास करते हैं।

• Large Cap Equity fund :-

इस इक्विटी फंड में निवेश करने का फायदा long term के लिए सही रहता है।

क्योंकि इस फंड में फंड मैनेजर बड़ी बड़ी कम्पनियों में पैसे लगाती है।

यहां रिटर्न में थोड़ा उतार चढ़ाव लगा रहता है।

• Small Cap Equity fund :-

इस प्रकार के इक्विटी फंड में फंड मैनेजर छोटी छोटी कम्पनियां, जिसके growth की संभावना काफी अधिक हो, उनमें पैसे लगाती है। इस फंड की विशेषता यह है कि इसमें multibagger रिटर्न मिलने की संभावना रहती है।

यहां रिस्क भी अधिक होता है, क्योंकि छोटी छोटी कम्पनियां डूब भी सकती है। और आपको भर भर के रिटर्न भी दे सकती है।

• Mid Cap Equity fund :-

इस प्रकार के फंड में फंड मैनेजर medium size की कम्पनियों में पैसे लगाती है।

और यहां भी ठीक ठाक रिटर्न मिलने की संभावना रहती है।

 

ये तो हो गई थोड़ी बहुत सामान्य जानकारी, जो हर निवेशक को जानने चाहिए।

आज के विषय की ओर चलते हैं।

Future Of Mutual Fund

Future Of Mutual fund #Mutual Fund में भर भर के निवेश आने के क्या कारण हो सकते हैं?

दरअसल RBI के annual report के मुताबिक स्टॉक मार्केट bubble की तरफ जा रहा है।

इस पूरे मुद्दे को समझने के लिए आप हमारा ये आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं-

 

Link – https://moneysarthi.com/stock-market-bubble/

 

ऐसे में हमारी इकॉनोमी नीचे गिर रही है, लेकिन शेयर बाजार ऊपर जा रहा है।

तो इसके कुछ कारण हो सकते हैं।

 

• दर असल दुनिया का कोई भी Share Market उस देश का भविष्य देखता है। ऐसे में हमारे देश के बारे में काफी ज्यादा पॉजिटिविटी है कि हमारी इकॉनोमी आगे चल कर काफी अच्छी grow करने वाली है।

शायद यही वजह है कि मात्र एक महीने में ही सेंसेक्स 8% के लगभग बढ़ा है।

निवेशक भारतीय बाजार में 10000 करोड़ से भी अधिक रुपए पंप कर चुके हैं।

वहीं जहां FPI यानि foreigners अपनी इन्वेस्टमेंट निकाल रहे हैं, अपने देश के इन्वेस्टर पैसे लगा रहे हैं।

 

Corona Wave की पॉजिटिव व्यू से भी काफी ज्यादा निवेश हो रहे हैं। क्योंकि लोगों को लग रहा है, भारत की अर्थव्यवस्था को corona और प्रभावित नहीं करेगी।

Consumption कम – Lockdown से पहले लोग सिनेमा, parties , dresses, और अतिरिक्त खर्च किया करते थे। लेकिन अब बचत की भावना तेजी से बढ़ी है।

ऐसे में लोगों के पास निवेश के लिए पैसे हैं, जिसे वो निवेश करते हैं।

 

• एक तरफ जहां निवेश बढ़ रहा है, दूसरी तरफ redemption भी बहुत कम हो रहा है।

जनवरी 2021 में जहां 36383 करोड़ रुपए का redemption हुआ , वहीं 15050 करोड़ रुपए मात्र जून महीने में redemption हुआ।

इस प्रकार Mutual Fund में Net Inflow काफी बढ़ा।

 

 

आज के लिए इतना ही हम आपसे फिर से कई ज्ञानवर्धक लेख के साथ जुड़ते रहेंगे।  Future Of Mutual fund लेख कैसा लगा ये आप हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताइएगा।

लेख के नियमित अपडेट पाने के लिए आप हमारे Facebook Page money sarthi को लाइक करें।

आर्टिकल के तुरंत और तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप या टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ना बिल्कुल न भूलें।

Money sarthi पर अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद !!

 

||जय हिन्द ||

इस लेख का कॉपीराइट अधिकार money sarthi के पास सुरक्षित है।इस लेख या लेख का कोई भी भाग कॉपी करना या डिजिटल मीडिया में या किसी भी अन्य रूप में प्रकाशित करने पर कानूनी दंड के भागीदार होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *