Fungal Desease

Fungal desease – Black Fungus, White Fungus, yellow Fungus या “mucormycosis” कौन है सबसे ख़तरनाक और कैसे बचें??

Corona का कहर अभी थमा भी नहीं, एक दूसरी मुसीबत Fungal desease के रूप में आ गई है।

आज के पोस्ट में हम इस desease का पूरा पूरा पोस्टमार्टम करेंगे।

बने रहिए हमारे साथ !

Black Fungus, White Fungus, yellow Fungus ये fungal desease का उदाहरण है।

जो इम्यूनिटी घटने पर human पर ज्यादा अटैक करता है।

सबसे पहले हम समझते हैं, ये Fungal desease क्या होता है?
 

क्या होता है Fungal desease?

 
जब कोई micro organism जीव हमारे शरीर में enter करता है।तब ऐसे रोग उभर कर सामने आते हैं।

ये जीव , मानव शरीर को पुनर्जनन यानि reproduce होने और शरीर को colonize करने के लिए इस्तेमाल करता है।

Severe condition में ये बहुत ही घातक सिद्ध हो सकता है। ये जीव कोई भी हो सकता है।

• Bacteria
•वायरस
• fungi यानि कवक
 

Fungal desease के कुछ उदाहरण :-

 
Fungal desease कोई नया नहीं है।ये एक बहुत ही कॉमन रोग है, जो सामान्यतः अधिकतर human में होता ही रहता है।

जैसे – skin rashes, छोटे छोटे दाने हो जाते हैं। गंजापन आदि

अगर severe condition का रोग देखें तो tubar culosis एक सामान्य उदाहरण है।

जिसे TB भी कहते हैं। ऐसे Fungul infection हमारे शरीर के लिए ख़तरनाक हो सकते हैं।

इसमें fungi yani कवक हमारे lungs यानि फेफड़ा के अंदर चले जाते हैं।और हमें नुकसान पहुंचाते हैं।

 

ऐसे में हमारे लिए ये जानना भी महत्वपूर्ण हो जाता है कि ये fungi जिसे हिंदी में कवक कहते हैं, ये पाया कहां कहां जाता है?

कवक यानि fungi हमारे आस पास हर जगह मौजूद हैं।

  • वो आपके भोजन में हो सकते हैं।
  • आपके वातावरण में हो सकते हैं।
  • पेड़ पौधों पर हो सकते हैं।

सामान्यतः देर तक रखे भोजन पर पाया जाने वाला ये जीव है।

ब्रेड, रोटी या केक में सामान्यतः इसे देखा जा सकता है।

इसलिए देर तक रखे हुए भोजन, खुले हुए भोजन को avoid करें।

कुछ कवक फायदेमंद होते हैं तो कुछ नुकसान दायक

जैसे – मशरूम

ये भी fungi ही है लेकिन हमारे शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचाती।

 

इसे भी पढ़ें:-NARCISSIST ,Personality disorder >>आस्तीन के सांपों को पहचानना सीखें
 

pendamic को सीरियस लें –

 
अभी मैं इस बारे में और भी अधिक जानकारी देने वाला हूं। लेकिन इस समय ये भी बताना महत्वपूर्ण है कि ये जो News बराबर निकल के आ रही है।

ये आपको डराने की कोशिश नहीं है, और न ही आपको डरने की जरूरत है।
ये सिर्फ और सिर्फ जागरूकता के लिए जरूरी है।

क्योंकि information रहेगा तभी आप इससे खुद का बचाव भी कर पाएंगे और दूसरों को भी बता पाएंगे।

सरकार के द्वारा already इसे pandemic घोषित कर दिया गया है।

 

क्या है Mucormycosis यानि Black Fungus, White Fungus, yellow Fungus अटैक के लक्षण

 
Mucormycosis के कुछ विशेष लक्षण इस प्रकार हैं।

1) lethargy यानि आलस्य
2) weight loss – वजन का घटना
3) sunken eyes यानि आंखों का dry होना, उसमे पस का जमना

ये severe लक्षण हैं।

लेकिन सामान्यतः इसमें शुरुआत में covid की तरह के लक्षण ही पाए जाते है।

जैसे –

• सांस लेने में तकलीफ़
• chest pain
• बुखार , कफ, खांसी

Mucormycosis होने पर चोट लगने पर घाव भरने में लंबा समय लगता है। रक्त का थक्का जमना धीमी गति से होता है।
 

क्यों होता है Fungus Attack ya Fungal Desease?

 
ये fungi हमारे सामान्य वातावरण में ही रहते हैं, तो फिर ये आज अचानक से मानवीय शरीर पर अटैक क्यों कर रहे हैं?

Well…

तो इसका एक बड़ा कारण है। इम्यूनिटी यानि हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता का ह्रास !!

Covid की वजह से जो व्यक्ति कमजोर हो गए हैं।
भले वो covid को हरा चुके हों, पर उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि इम्यूनिटी पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

यही कारण है कि 95% व्यक्ति इस रोग से ऐसे व्यक्ति पीड़ित हैं, जो corona को मात दे चुके या corona पीड़ित हैं।

 

इसे भी पढ़ें:-चीन (China )कैसे बन गया एक आर्थिक महाशक्ति ?
 

डॉक्टर इस रोग यानि Fungal Desease को कैसे detect कर पा रहे हैं??

 
X-ray या CT-Scan के माध्यम से इस टाइप के फंगस का पता लगाया जाता है।

 

क्या treatment दिया जा सकता है?

 
Fungal desease है तो जाहिर है।
इससे निजात के लिए antifungal drugs का उपयोग किया जाता है।

जैसे – Amphotericin -B – injection

लेकिन मैं आपको सचेत करना चाहता हूं। ये दवाई मैंने सिर्फ आपके ज्ञान हेतु लिखी है।

बिना डॉक्टर के prescription के इसे भूल से भी न लें।
 

#Amphotericin B ki shortage !!!

 
केंद्रीय मंत्री Sadanand Gowda जी के अनुसार अभी जिस भारतीय राज्य में जितने प्रतिशत केस आ रहे हैं।

वहां उतने प्रतिशत डिस्ट्रीब्यूट किया जा रहा है।

• केवल गुजरात में काफी केस मिलने के बाद 25% तक यहां मेडिसिन भेजा जा चुका है।

• गुजरात को करीब 5800 vials डोज भेजा जा चुका है।

 

Amphotericin की काला बाजारी भी शुरू हो गई है।

जैसे अक्सर होता आ रहा था, और इस बार भी कयास लगाए ही जा रहे थे।

हाल ही में noida में दो व्यक्ति को मेडिसिन की काला बाजारी करते हुए गिरफ्तार किया गया है।

 

क्या है अभी Amphotericin का प्रोडक्शन और देश में कितनी shortage ?

 

केन्द्र सरकार Amphotericin की shortage देखते हुए, 6.8 लाख डोज इंपोर्ट यानि आयात करेगी।

देश भर में इसकी shortage है, इसलिए घरेलू तौर पर भी इसका उत्पादन किया जाएगा।

घरेलू तौर पर 2.6 लाख vials तक प्रोडक्शन सरकार करवाएगी।

 

इसे भी पढ़ें:-अमीर होने के पांच नियम | Be Rich
 

अभी कौन कर रहा है Amphotericin का उत्पादन ?

 
वर्तमान में अभी 6 फार्म है जो Amphotericin Drugs का उत्पादन कर रही है।

1) BDR PHARMA

2) BHARAR SERUM AND VACCINE

3) SUN PHARMA

4) MYLAN

5) CIPLA

6) LIFE CARE

• सरकार ने अभी 5 और फार्मा कम्पनियों को इसके उत्पादन की मंजूरी दे दी है।
 

During Fungal Desease NO delay in Treatment

 
Mucormycosis के लक्षण प्राप्त होने पर, जो प्राथमिक उपचार हम कर सकते हैं।
वो करना जरूर शुरू कर दें –

जैसे –
•हल्दी डाल कर गर्म दूध पीना
• दिन में एक बार गर्म पानी का सेवन

और condition severe होने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।

 

PREVENTION :-

 
1) ग्लव्स पहन कर बाहरी चीजों को छुएं

2) MINOR CUT या SCRAPS से बचें, क्योंकि छोटे छोटे घाव इस फंगल इन्फेक्शन को बढ़ावा देते हैं।

3) देर तक रहे खाने को मत खाएं

4) स्वच्छता पर ध्यान दें, हाथ धोएं और सफाई रखें।

5) डॉक्टर की सलाह से ANTIFUNGAL TABLETS या इंजेक्शन ले लें।

 

सामान्य जानकारी

 
• वर्तमान में भारत में अभी करीब 8848 केस इस पोस्ट के लिखने तक आ चुके हैं।
थोड़ा बहुत का अंतर हो सकता है, पर अभी आंकड़ा यही है।

• डायबिटीज रोगियों और जिनकी covid में steroid se treatment हुआ था, उन्हें ज्यादा सावधान रहने कि जरूरत है।

• Black Fungus, White Fungus, yellow Fungus , सारे Fungus ही हैं।
Yellow Fungus  की पुनर्जनन क्षमता यानि fertility rate अधिक है। तो ऐसे में ये ज्यादा खतरनाक है।

• सरकार ने Black fungus को epidemic घोषित कर दिया है।

इसलिए सावधान रहें, घर में रहें।

 

 

 

इसे भी पढ़ें:-Share market Kya hai और शेयर मार्केटिंग कैसे करें

 

 

 

अभी के लिए इतना ही, आगे आने वाले और विभिन्न विषयों पर हम आपके साथ जुड़ेंगे।

और भी अच्छे ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स को पढ़ने के लिए लगातार हमारे साथ जुड़े रहें।

नियमित अपडेट के लिए हमारे Facebook Page ,moneysarthi को लाइक कर सकते हैं।
साथ और तुरंत अपडेट के लिए हमारे Whatsapp या Telegram से जुड़ना न भूलें।

बहुत बहुत धन्यवाद

जय हिन्द

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *