अमीर होने के पांच नियम

अमीर होने के पांच नियम – मेरा नाम सौरभ है और मैं आज आपके लिए लेकर आया हूँ बेहद आसान और व्यावहारिक पांच ऐसे नियम जिनको अपनाने के बाद आप भी अमीर होने की यात्रा में अग्रसर हो जायेंगे।

हम सबकी शिक्षा एक ऐसे दृष्टिकोण को लेकर हुई है कि बच्चा स्कूल जाये, नौकरी पाए और फिर जीवन भर टैक्स भरे। मान लीजिये एक सरकारी नौकरी मिल भी जाती है तो लगभग अपने जीवन के 35 – 40 साल जीवन के एक जैसी नीरस ज़िन्दगी जीने में क्या सच में मजा है??

मैं नहीं मानता।

ये बिलकुल एक डरे सहमे से इंसान की अवधारणा को पेश करता है जो सिर्फ एक खोल में रहना चाहता है ताकि उसका जीवन किसी तरह सिर्फ कट जाये।

जीवन जीना इसे नहीं कहते। जीवन एक वीडियो गेम की तरह होना चाहिए जिसमे हर एक समयांतराल पर स्टेज बदल जाती है मगर मिशन एक ही रहता है। इससे मिशन को पूरा करने की इच्छा भी बनी रहती है और मजा भी आता है।

अपने जीवन में अमीर होना मेरे लिए एक मिशन की तरह ही है, मेरी तरह कइयों का ये सपना होगा मगर क्या आपने इस सपने को पूरा करने के लिए कोई कदम उठाया है? अधिकतर लोगों के जवाब होंगे ना के रूप में।

हमें बचपन से लेकर आजतक ऐसी शिक्षा दी गई है जो हमें गलती करने पर सजा देती है, जबकि प्रकृति ने इंसान को अपनी गलतियों से सीखने वाले प्राणी के रूप में बनाया है।

इंसान जब गलती करता है तभी सीखता है जबकि हमारी शिक्षा व्यवस्था में गलती करने पर सजा दी जाती है ताकि गलती ना हो। मेरी नज़र में ये इंसान की आज़ादी के ऊपर भी एक प्रश्नचिन्ह है।

आज मैं आपके सामने कुछ पांच चुनिंदा नियम बताने जा रहा हूँ जो आपको अमीर बनने में अहम् भूमिका निभाने वाले हैं:-

अमीर होने के पांच नियम

 

1 – असुरक्षा की भावना से मुक्ति:-

अपनी पढाई पूरी कर लेने के बाद एक अदद नौकरी की तलाश ही, असुरक्षा की भावना। हमारे युवा हमेशा एक सरकारी नौकरी का सपना देखते हुए बड़े होते हैं, जहाँ उन्हें कम से कम काम करना पड़े और एक सुरक्षित गेम की तरह उनका जीवन कट जाये।

एकमुश्त रकम और जोखिम ना होने की वजह से युवा इस ओर आने की प्लानिंग करते हैं जबकि सच्चाई कुछ और ही है। अगर आप एक नौकरी पेशा हैं तो आप अपनी ज़िंदगी की तबाही से मात्र एक तनख्वाह के ना आने की दूरी पर हैं।

अगर एक महीना तनख्वाह ना आये तो ज़रा सोचकर देखिये डर से सहम जायेंगे। सबसे पहले आपको अपना सन्दर्भ बदलने की ज़रूरत है और सन्दर्भ बदलता है दृष्टिकोण से। दृष्टिकोण बदलने की लिए ज़रूरत होती है अपने दिमाग को चुनौती देने की।

जब आप किसी विषय पर सोचते हैं तो आपका दिमाग उस विषय पर एक निर्णय ले लेता है, या तो वो सकारात्मक होता है या फिर नकारात्मक।

अब आपको करना ये है कि उस निर्णय को मानने से खुद को मना करना है कि ऐसा तो हो ही नहीं सकता, फिर आपका दिमाग खुद ब खुद उस विषय का दूसरा पहलू आपके सामने रख देता है।

जब तक आप ये मानकर बैठे रहेंगे कि नौकरी करना सुरक्षित है तो आप कभी अमीर नहीं बनने वाले, मगर जिस दिन आपने दूसरी तरह से सोचना शुरू कर दिया आपके आँखों पर पड़े परदे खुलने शुरू हो जायेंगे। क्या आपने किसी नौकरीपेशा को अम्बानी जितना अमीर पाया है ?

 

2 – बिजनेस शुरू कीजिये:-

 

आपके मन में सबसे पहला सवाल जो आया है वो है कि बिजनेस करने के लिए ढेर सारे पैसे लगते हैं। सरासर गलत, बिजनेस करने के लिए एक जज़्बे की ज़रूरत होती है, एक प्लानिंग की ज़रूरत होती है, लोगों को वो चीज़ देने की ज़रूरत होती है जिनकी उन्हें सख्त ज़रूरत है।

इन तीन चीज़ों की बदौलत आप एक बिजनेस मॉडल खड़ा कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई ख्याल नहीं आ रहा है तो अमीर लोगों के ऊपर ढेर सारी किताबें मौजूद हैं, जहाँ उनके विचार, अवधारणा, प्लानिंग और बिजनेस मॉडल सब कुछ लिखा मिलेगा।

उनको पढ़िए, प्रेरणा लीजिये और निकल पड़िये अपने नए सफर पर। जहाँ तक बिजनेस के लिए रकम की बात है तो सारी रकम आपको नहीं जुटानी है। OPM यानि, Other People Money की सहायता से काम शुरू कीजिये, 20% हिस्सा खुद जुटाइये और बाकि का 80% उधार लीजिये।

खुद काम करने वाले से आगे निकलिये और दूसरों को काम पर लगाइये। OPT यानि कि Other People Time का इस्तेमाल कीजिये। OPM और OPT ही आपको गुणात्मक गति से अमीर बनाते हैं। दूसरों के पैसों और दूसरों के समय का सही उपयोग करके ही आप अमीरों की श्रेणी में शामिल हो सकते हैं।

 

Work from home business ideas in hindi 2020

 

3 – पत्थर के मकान बनाइये:-

 

बचपन में हम सबने तीन सूअरों की कहानी पढ़ी या देखी है, जिनमे तीन सूअर अपना अपना मकान बना रहे होते हैं। पहला सूअर घास फूस का मकान बनाता है, दूसरा सरकंडों की मदद से थोड़ा मजबूत मकान बनाता है जबकि तीसरा सूअर पत्थर और सीमेंट से बेहद मजबूत मकान खड़ा करता है।

थोड़े ही समय में एक भयंकर तूफ़ान आ जाता है जिसमे घास फूस वाला मकान सबसे पहले उड़ जाता है, सरकंडों वाला थोड़े समय तक टिकता है मगर बाद में वो भी तबाह हो जाता है मगर तीसरा मकान जस का तस खड़ा रहता है जिसमे बैठा तीसरा सूअर भी सुरक्षित रहता है।

ये कहानी मैंने यहाँ इसलिए सुनाई ताकि जब भी आप अपना कोई बिजनेस खड़ा करें तो ये ज़रूर सुनिक्षित करें कि किसी बहरी कारण की वजह से अचानक से आपका बिजनेस धराशाई ना हो।

अपनी फर्म को कागज़ों से मजबूत बनाइये, लम्बी समयावधि को लेकर प्लानिंग कीजिये, एक क़ानूनी सलाहकार ज़रुर रखिये और याद रखिये बिजनेस एक टीम गेम है। अगर आपको एक बिजनेस में कामयाब होना है तो आपकी टीम एक साथ खेलने वाली होनी चाहिए।

 

4 – भगवान् के पैसों को बचाकर रखिये :-

 

जब एक बार आप बिजनेस बना लेते हैं तो उससे आने वाले प्रॉफिट का 20% हिस्सा भगवान् के पैसों में परिवर्तित करिये। यहाँ भगवान् के पैसों से मतलब सोना और चाँदी जैसी बहुमूल्य धातुओं से हैं।

रुपया, येन, यूरो, डॉलर तो इंसानो ने बनाये हैं जिसे वो खुद के मुताबिक छाप रहा है। इस छपाई की वजह से दिन प्रतिदिन इन मुद्राओं की वैल्यू कम होती जा रही है।

लेकिन सोना और चाँदी इस धरती पर तबसे से है जबसे भगवान् ने इस धरती को बनाया है और ये तभी ख़त्म होंगे जब ये धरती ही नहीं रहेगी। संयोग से पिछले 5000 सालों के इंसानी इतिहास में ये दोनों धातुएं बहुमूल्य बानी हुई हैं।

20% हिस्सा आपके बिजनेस के लिए एक बीमे की तरह काम करेगा, जो वैल्यू में धीरे धीरे बढ़ता भी रहता है। इंसानी मुद्रा को बचाने की कोई ज़रूरत नहीं, उस चीज़ को बचाने क्या फायदा जिसे सरकारी लोग छाप रहे हैं।

 

Global Currency Reset Kya Hai ?

 

5 – रिसर्च और डेवलपमेंट:-

 

आप किसी भी क्षेत्र का बिजनेस शुरू कर सकते हैं मगर समय के साथ साथ उसमे सुधार करना ही सफलता की कुंजी है, एक समय के बाद आपके द्वारा दी जा रही सर्विसेज में सुधार की ज़रूरत होती है।

आज की तेजी से बदलती दुनिया में कदम से कदम मिलकर चलने वाला ही अमीर बन सकता है। अपने बिजनेस में शुरुआत से ही इन बदलावों की सहन करने के लायक लाचिलापन बनाकर चलिए।

बिना लचीलेपन के बिजनेस एक समय के बाद टूट जाता है। वर्तमान में रेस्टोरेंट बिजनेस को लेकर ही देख लीजिये, जिन्होंने नई टेक्नोलॉजी नहीं अपनाई वो धराशाई हो चुके हैं जबकि जो ऑनलाइन सर्विसेज शुरू कर चुके थे,

उन्हें थोड़ी बहुत कठिनाइयां तो हैं ही मगर उनका बिजनेस बंद नहीं हुआ है। कठिनाइयों का दौर आता जाता रहता है चाहे वो बिजनेस हो या ज़िन्दगी मगर आपकी तैयारी ही ये तय करती है कि कठिनाइयां टूटेंगी या आप।

 

अमीर होने के नियम

 

तो दोस्तों ये रहे अमीर होने के पांच नियम, जिनकी सहायता से आप एक बिजनेस खड़ा कर पाएंगे और उसे चला भी पाएंगे। और एक बार आप का बिजनेस चल निकला तो आपको अमीर होने से कोई रोक ही नहीं सकता।

सादर नमस्कार!

 

इसे भी पढ़ें:-Share market Kya hai और शेयर मार्केटिंग कैसे करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *